अफगानिस्तान की मदद के लिए कूटनीतिक समाधान में समर्थन देना चाहते हैं: अमेरिका


अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के नेतृत्व वाले प्रशासन ने कहा है कि अमेरिका अफगानिस्तान की मदद के लिए कूटनीतिक समाधान तलाशने में मदद करना चाहता है, ताकि वह राजनीतिक सुलह और एक स्थायी एवं समग्र संघर्षविराम तक पहुंच सके।


बबली कुमारी बबली कुमारी
विदेश Updated On :

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के नेतृत्व वाले प्रशासन ने कहा है कि अमेरिका अफगानिस्तान की मदद के लिए कूटनीतिक समाधान तलाशने में मदद करना चाहता है, ताकि वह राजनीतिक सुलह और एक स्थायी एवं समग्र संघर्षविराम तक पहुंच सके।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि अफगानिस्तान में सुलह के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद ने काबुल में तीन दिन के दौरे में सरकारी अधिकारियों, नागरिक समाज के सदस्यों, महिला नेताओं और अन्य अफगानी नेताओं के साथ विचार-विमर्श किया।


खलीलजाद ने ट्वीट किया, ‘‘मैं सभी पक्षों के लिए इस बात को रेखांकित करना चाहता हूं कि हमारा ध्यान अफगानिस्तान एवं कूटनीति पर केंद्रित है और हम व्यापक अंतरराष्ट्रीय समर्थन हासिल करना चाहते हैं, ताकि शांति प्रक्रिया में अधिक तेज प्रगति के लिए अफगानों की मदद की जा सके।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इस्लामिक गणराज्य एवं तालिबान को राजनीतिक सुलह और एक स्थायी एवं समग्र संघर्षविराम तक पहुंचने का मार्ग तलाशना चाहिए। मैंने काबुल में इस प्रक्रिया को तेज करने के विभिन्न विकल्पों पर चर्चा की।’’


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह अफगानिस्तान के नेतृत्व वाली प्रक्रिया है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका अफगानिस्तान की मदद के लिए कूटनीतिक समाधान तलाशने में मदद करना चाहता है, ताकि वह राजनीतिक सुलह और एक स्थायी एवं समग्र संघर्षविराम तक पहुंच सके।

प्राइस ने जलालाबाद में तीन महिला मीडियाकर्मियों की हत्या को दुखद समाचार बताया और कहा, ‘‘हम जानते हैं कि इन हमलों का एक ही मकसद है। इसका मकसद डराना है। इनका मकसद पत्रकारों को झुकाना है।’’