किम ने ट्रंप को अपने रिश्तेदार की हत्या करने के बारे में बताया था: वुडवर्ड


वुडवर्ड ने राष्ट्रपति से पूछा था कि क्या एक श्वेत व्यक्ति के रूप में काले अमेरिकियों के ‘‘गुस्से और दर्द को बेहतर तरीके से समझना’’ उनकी जिम्मेदारी है। इसके जवाब में ट्रम्प ने उत्तर दिया था, ‘‘नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगता।’’


भाषा भाषा
विदेश Updated On :

वाशिंगटन।  कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे, उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और एक रहस्यमय हथियार को लेकर किताब ‘रेज’ में छपी अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की टिप्पणियां चर्चा का विषय बन गई हैं।

खोजी पत्रकार बॉब वुडवर्ड की किताब ‘रेज’ 15 सितंबर से दुकानों पर उपलब्ध होगी। वुडवर्ड ने इस किताब के कुछ अंश और ट्रम्प के साक्षात्कार के कुछ हिस्से बुधवार को जारी किए। यह किताब ट्रम्प के उन 18 साक्षात्कार पर आधारित हैं, जो अमेरिका के राष्ट्रपति ने वुडवर्ड को दिसंबर से जुलाई के बीच दिए। इस किताब के कुछ अंश ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ को उपलब्ध कराए गए हैं। वुडवर्ड ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ के संपादक हैं।

वुडवर्ड ने लिखा है कि ट्रम्प ने उन्हें बताया कि वह जब 2018 में सिंगापुर में उत्तर कोरिया के नेता से पहली बार मिले थे, तब वह उनसे बहुत प्रभावित हुए थे।

किताब के अनुसार, ट्रम्प ने कहा कि किम ने ‘‘मुझे सब कुछ बताया’’ और किम ने यह भी बताया कि उन्होंने अपने रिश्तेदार की किस प्रकार हत्या की थी।

ट्रम्प ने वुडवर्ड को बताया था कि सीआईए को इस बारे में कोई जानकारी ही नहीं है कि प्योंगयांग से कैसे निपटना है। ट्रम्प ने किम के साथ अपनी तीन बैठकों को लेकर हुई आलोचनाओं को खारिज किया था।

ट्रम्प ने उत्तर कोरिया के बारे में कहा था कि वह अपने परमाणु हथियारों से अपने घर की तरह प्यार करता है और ‘‘वे इसे नहीं बेच सकते’’।

वुडवर्ड ने राष्ट्रपति से पूछा था कि क्या एक श्वेत व्यक्ति के रूप में काले अमेरिकियों के ‘‘गुस्से और दर्द को बेहतर तरीके से समझना’’ उनकी जिम्मेदारी है। इसके जवाब में ट्रम्प ने उत्तर दिया था, ‘‘नहीं, मुझे ऐसा नहीं लगता।’’

जब ट्रम्प से पूछा किया कि क्या अमेरिका में नस्लवाद है, राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि यह हर जगह है, लेकिन यह कई स्थानों की तुलना में यहां कम है।’’

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच 2017 में बढ़ रहे तनाव के बीच ट्रम्प ने वुडवर्ड से कहा था, ‘‘मैंने एक परमाणु हथियार- एक हथियार प्रणाली बनाई है, जो इस देश के पास पहले नहीं थी। हमारे पास ऐसा हथियार है, जो आपने कभी देखा या सुना नहीं। हमारे पास ऐसी चीज है, जिसके बारे में (रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर) पुतिन और (चीन के राष्ट्रपति) शी चिनफिंग ने पहले कभी नहीं सुना।’’

किताब में दावा किया गया है कि ट्रम्प ने यह स्वीकार किया था कि उन्होंने घातक कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को सार्वजनिक तौर पर इसलिए तवज्जो नहीं दी, क्योंकि वह लोगों में घबराहट पैदा नहीं करना चाहते थे।

किताब के अनुसार ट्रम्प ने मार्च में बुडवर्ड से कहा था, ‘‘मैं हमेशा इसे कम महत्व देना चाहता था। मैं अब भी इसे तवज्जो नहीं देना चाहता, क्योंकि मैं लोगों में घबराहट पैदा नहीं करना चाहता।’’

ट्रम्प ने सात फरवरी को एक अन्य साक्षात्कार में पत्रकारों से कहा था कि कोरोना वायरस बहुत घातक फ्लू है और यह हवा से भी फैल सकता है। इस साक्षात्कार की ऑडियो क्लिप ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ ने जारी की है।

किताब के अनुसार, ट्रम्प ने वुडवर्ड से कहा था कि वह कोविड-19 वैश्विक महामारी और आर्थिक संकट से अवश्य जीतेंगे।


Related