क्रिकेट आस्ट्रेलिया की 26 जनवरी की योजनाओं पर आस्ट्रेलियाई PM ने जतार्ई नाराजगी


आस्ट्रेलिया दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन 1788 में कप्तान आर्थर फिलिप ब्रिटेन से 11 समुद्री जहाजों में सजा पाने वाले दोषियों को लेकर बोटेनी बे लाए थे जिसे अब सिडनी के नाम से जाना जाता है।


भाषा भाषा
विदेश Updated On :

ब्रिसबेन। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अपनी स्वदेशी सलाहकार समिति की सिफारिश के बाद 26 जनवरी को तीन मैचों की मार्केटिंग में ‘राष्ट्रीय अवकाश’ का उल्लेख करने से इनकार करने पर देश के प्रधानमंत्री स्कॉट मौरिसन ने नाराजगी जताई है।

आस्ट्रेलिया दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन 1788 में कप्तान आर्थर फिलिप ब्रिटेन से 11 समुद्री जहाजों में सजा पाने वाले दोषियों को लेकर बोटेनी बे लाए थे जिसे अब सिडनी के नाम से जाना जाता है।

इस दिन आस्ट्रेलिया में जगह-जगह समारोह, परेड, महोत्सव के अलावा जश्न का आयोजन होता है लेकिन साथ ही विरोध-प्रदर्शन भी होते हैं।

आस्ट्रेलिया के स्वदेश समुदाय के कई लोग इस दिन को ‘आक्रमण के दिन’ के रूप में देखते हैं और इसके साथ ही उपनिवेशवादियों के हाथों उनके उत्पीड़न और कष्टों की शुरुआत हुई और बाद में संघीय और राज्य सरकारों का रवैया भी ऐसा ही रहा।

लंबे समय से राष्ट्रीय अवकाश को मनाने के लिए वैकल्पिक तिथि तलाशने को लेकर सार्वजनिक बहस चल रही है।

आस्ट्रेलिया की बिग बैश टी20 लीग के 26 जनवरी को तीन मैच होने हैं और क्रिकेट आस्ट्रेलिया की राष्ट्रीय आदिवासी एंड टोरेस स्ट्रेट आइलैंडर क्रिकेट सलाहकार समिति ने सिफारिश की है कि इस दिन को आस्ट्रेलिया दिवस की जगह सिर्फ 26 जनवरी के रूप में पेश किया जाए।

प्रधानमंत्री मौरिसन ने गुरुवार को मध्य क्वीन्सलैंड राज्य के रॉकथेम्पटन में एक रेडियो स्टेशन से कहा, ‘‘क्रिकेट आस्ट्रेलिया को मेरा संदेश है कि वे क्रिकेट पर थोड़ा अधिक और राजनीति पर थोड़ा कम ध्यान दें।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह काफी साधारण सी चीज है।’’ बिग बैश में 26 जनवरी को एक मुकाबला एडीलेड ओवल में और अन्य दो मुकाबले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जाने हैं।