US में करीब सात दशक बाद किसी महिला कैदी को मौत की सजा के लिए लगाया गया इंजेक्शन


महिला के वकील केली हेनरे ने कहा ,‘‘ लीसा को मौत की सजा देने की प्रक्रिया में शामिल लोगों को शर्म आनी चाहिए।’’


भाषा भाषा
विदेश Updated On :
महिला कैदी लीसा मॉन्टगोमरी को जहरीला इंजेक्शन देकर मौत दे दी गई।


टेरे हौटे (अमेरिका)। अमेरिका के कंसास में रहने वाली एक महिला को एक गर्भवती महिला की गला दबा कर हत्या करने और गर्भ काट कर भ्रूण निकालने के जुर्म में मौत की सजा दी गई। अमेरिकी सरकार ने करीब सात दशक में पहली बार किसी महिला कैदी को मौत की सजा दी है।

महिला कैदी लीसा मॉन्टगोमरी (52) को इंडियाना प्रांत के टेरे हौटे के संघीय जेल परिसर में जहरीला इंजेक्शन लगाए जाने के बाद रात 1:31 बजे मृत घोषत कर दिया गया।

मौत की सजा पर तामील होने की प्रक्रिया के दौरान मॉन्टगोमरी के के पास खड़ी महिला ने झुक कर उसके चेहरे से मास्क हटाया और पूछा कि क्या उसे अंतिम बार कुछ कहना है।

इस पर दोषी महिला ने कहा,‘‘नहीं।’’

महिला के वकील केली हेनरे ने कहा ,‘‘ लीसा को मौत की सजा देने की प्रक्रिया में शामिल लोगों को शर्म आनी चाहिए।’’

मामले के अनुसार मॉन्टगोमरी ने 2004 में मिसूरी के स्किडमोर शहर में 23 वर्षीय बॉबी जो स्टीनेट की हत्या कर दी थी। उसने एक रस्सी से बॉबी की गला दबा कर हत्या कर दी थी और एक चाकू से उसका पेट काट कर बच्ची को निकाल लिया था। उस वक्त बॉबी आठ माह की गर्भवती थी।

बाद में मॉन्टगोमरी बच्ची को अपने साथ ले गई थी और उसे अपना बताने लगी।