UP ELECTION 2022 : योगी सरकार का ‘80 बनाम 20 फीसदी’ का वार और जनता के लिए योजनाओं की कतार, जानिए बीजेपी की चुनाव के लिए अहम तैयारियां


सीएम योगी ने ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्र के किसानों को सुविधा देने और उनकी समृद्धि बढ़ाने के लिए निजी नलकूपों पर आने वाले बिजली बिल में 50 पर्सेंट की छूट देने का ऐलान किया है।



लखनऊ। देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश में चुनावी बिगुल बजते ही सभी पार्टियां तैयारियों में जुट चुकी हैं। जहां प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों पर 10 फरवरी से 7 मार्च तक 7 चरणों में मतदान होना है। वहीं इस चुनावी रण के नतीजे 10 मार्च को सामने आएंगे, जो सूबे की सत्ता पर काबिज होने वाली पार्टी का ऐलान करेंगे।

इस महायुद्ध में जीत की तैयारियों में जुटी सभी पार्टियां जनता को लुभाने का कोई मौका नहीं छोड़ रही हैं। जिस कड़ी में सत्ता पर काबिज योगी सरकार ने अपनी रणनीति को सफल बनाने के लिए कई नई योजनाओं से सजी  थाल जनता के सामने परोसी है।

योगी सरकार की योजनाओं की झड़ी

जहां बीजेपी ने राज्य में मुफ्त और सस्ती बिजली को लेकर कई घोषणाएं की है। जिसके तहत सीएम योगी ने ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्र के किसानों को सुविधा देने और उनकी समृद्धि बढ़ाने के लिए निजी नलकूपों पर आने वाले बिजली बिल में 50 पर्सेंट की छूट देने का ऐलान किया है।

इसी के साथ ही उन्होंने ग्रामीण इलाकों में मीटर्ड कनेक्शन पर 2 रुपये प्रति यूनिट की जगह 1 रुपये प्रति यूनिट देने की बात कही है। इसके अलावा फिक्‍स चार्ज में भी छूट देते हुए कनेक्शन पर 70 रुपये प्रति हार्सपावर की दर को घटाकर 35 रुपये प्रति हॉर्स पावर करने की घोषणा की है।

साथ ही शहरी इलाकों में भी किसानों को राहत देते हुए मीटर वाले कनेक्शन पर 6 रुपये के बजाय 3 रुपये प्रति यूनिट बिजली खर्च करने का ऐलान किया है। यहां पर भी कनेक्शन पर भी फिक्स चार्ज घटाते हुए 130 से 65 रुपये प्रति हॉर्स पावर करने की बात कही है।

इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्वरोजगार संगम कार्यक्रम के तहत बढ़ती बेरोजगारी को रोकने के लिए 5,06,995 लाभार्थियों को 4,314 करोड़ का कर्ज भी बांटा।

योगी का 80 बनाम 20 फीसदी का वार

सीएम योगी ने सूबे में बीजेपी की ओर से इस बार के चुनावी मुद्दे को साफ कर दिया है। उन्होंने कहा है कि यह आगामी चुनाव 80 बनाम 20 फीसदी के बीच होगा। जहां बीजेपी राष्ट्रवाद, सुशासन और विकास के मुददे पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

सीएम योगी ने 20 प्रतिशत के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि, ‘यह वे लोग हैं जो रामजन्मभूमि, काशी विश्वनाथ धाम, मथुरा वृंदावन के भव्य स्वरूप का विरोध करते हैं। ये 20 फीसदी वे लोग हैं जिनकी पीड़ा माफियाओं के साथ है। हिंदू विरोधी हैं, वे राष्ट्र विरोधी भी हैं। जिनके खिलाफ हमें यह रण जीतना है।’



Related