नोएडा पुलिस ने गूगल मैप की मदद से बच्ची को उसके परिजनों से मिलवाया


थाना जारचा क्षेत्र के सलारपुर गांव से लापता हुई एक बच्ची को गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट की मानव तस्करी रोधी इकाई के दल ने गूगल मैप की सहायता से उसके परिजनों से मिलवाया।


भाषा भाषा
उत्तर प्रदेश Updated On :

नोएडा।  थाना जारचा क्षेत्र के सलारपुर गांव से लापता हुई एक बच्ची को गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट की मानव तस्करी रोधी इकाई (एएचटीयू) के दल ने गूगल मैप की सहायता से उसके परिजनों से मिलवाया। बच्ची सेक्टर 12 स्थित एक अनाथ आश्रम में चार दिन से रह रही थी। उक्त बच्ची दल को ‘साईं कृपा शेल्टर होम’ में मिली जहां वह बच्चों की काउंसलिंग करने पहुंचा था।

गौतम बुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट एएचटीयू के निरीक्षक देवेंद्र सिंह ने बताया कि सेक्टर-12/22 स्थित साईं कृपा शेल्टर होम में दल ने बच्चों की काउंसलिंग की। इस दौरान एक बच्ची ने अपना नाम, अपने पिता का नाम बताया और कहा कि वह सलारपुर गांव की रहने वाली है।

उन्होंने बताया कि सलारपुर नाम का एक गांव थाना सेक्टर 39 क्षेत्र में है। लेकिन यहां पता करने पर बच्ची के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली। इसके बाद पुलिस ने गूगल मैप पर तलाश किया तो पता चला कि थाना जारचा क्षेत्र में सलारपुर नाम से एक और गांव है।

एएचटीयू निरीक्षक ने बताया कि ग्राम के पूर्व प्रधान से संपर्क किया गया जिन्होंने बताया कि बच्ची उनके गांव की ही है। इसके बाद, गांव के प्रधान ने बच्ची के परिजनों को सूचना दी और परिजन बच्ची को लेने नोएडा पहुंचे। शेल्टर होम से बच्ची को उसके परिजनों को सौंप दिया गया।