राजनीतिक एजेंडे के तहत मुख्‍तार के खिलाफ कार्रवाई कर रही योगी सरकार : अफजाल अंसारी


योगी सरकार को न तो देश के संवैधानिक तंत्र पर भरोसा है और न ही अदालत के फैसले पर। देश में कोविड महामारी के चलते विचाराधीन कैदी की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंस के जरिये की जा रही है, लेकिन योगी सरकार मुख्तार अंसारी की हत्या की साजिश के तहत उन्हें पंजाब से उत्तर प्रदेश पेशी के बहाने लाना चाहती है।


भाषा भाषा
उत्तर प्रदेश Updated On :

बलिया। बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी ने मंगलवार को कहा, ‘ योगी सरकार बसपा विधायक मुख्‍तार अंसारी के विरूद्ध राजनीतिक एजेंडे के तहत प्रतिशोध वश कार्रवाई कर रही है।’’

बसपा के गाजीपुर से सांसद अंसारी ने मंगलवार को बसपा विधायक मुख्तार अंसारी पर कार्रवाई को लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। अफजाल अंसारी विधायक मुख्‍तार अंसारी के बड़े भाई हैं।

उन्होंने कहा, ‘योगी सरकार को न तो देश के संवैधानिक तंत्र पर भरोसा है और न ही अदालत के फैसले पर । देश में कोविड महामारी के चलते विचाराधीन कैदी की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंस के जरिये की जा रही है, लेकिन योगी सरकार मुख्तार अंसारी की हत्या की साजिश के तहत उन्हें पंजाब से उत्तर प्रदेश पेशी के बहाने लाना चाहती है।’

उन्होंने कहा, ‘‘मुख्तार अंसारी स्वयं अपनी हत्या की आशंका जता चुके हैं ।’’

उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा सरकार के लिए मुख्तार अंसारी राजनैतिक एजेंडा बन गए हैं और भाजपा को ऐसा लगता है कि मुख्तार अंसारी के सहारे विधानसभा के आगामी चुनाव में उसे लाभ हासिल हो सकता है ।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से शीर्ष न्यायालय में दिये गये हलफ़नामा में मुख्तार अंसारी के विरुद्ध दस मुकदमे का उल्लेख किया गया है । उन्होंने दावा किया कि सभी मुकदमे झूठे हैं तथा राजनैतिक साजिश के तहत मुख्तार अंसारी को फर्जी मुकदमे में फंसाया गया है ।

उन्होंने कहा, ‘उनके परिवार को देश के न्याय तंत्र पर पूर्ण भरोसा है और विश्वास है कि मुख्तार अंसारी न्यायालय से निर्दोष साबित होंगे।’

उल्‍लेखनीय है कि पिछले वर्ष नवंबर माह में मुख्‍तार अंसारी की पत्‍नी अफशां अंसारी ने राष्‍ट्रपति को पत्र लिखकर अपने पति की हत्‍या की आशंका जताते हुए हस्‍तक्षेप की मांग की थी। अंसारी ने अपने पत्र में अपने परिवार के देश की आजादी की लड़ाई में दिये गये योगदान का जिक्र किया था।



Related