आजादपुर मंडी में फुल बॉडी सैनिटाइजर मशीन: गोपाल राय


सैनिटाइजर
मशीन में प्रवेश से पहले प्रत्येक व्यक्ति के शरीर का तापमान मापा जाता है। जिनका
तापमान समान्य है, उन्हें इस मशीन से गुजारा जाएगा। इस सैनिटाइजर मशीन से गुजरते ही व्यक्ति
के ऊपर सोडियम हाइपो क्लोराइड युक्त सैनिटाजर की फुहार शुरू हो जाती है। मशीन की
टनल से गुजरते ही संबंधित व्यक्ति पूरी तरह सैनिटाइज होकर संक्रमण रहित हो जाएगा।



प्रदीप सिंह

नई दिल्ली। कोरना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए आजादपुर मंडी के गेट एक और पांच पर “फुल बॉडी सैनिटाइजर मशीन” लगाई गई हैं। अब मंडी में प्रवेश करने वालों को मशीन से गुजर कर ही जाना पड़ेगा।मशीन में प्रवेश करने वाले व्यक्ति पर सोडियम हाइपो क्लोराइड की बौछार की जाती है, जिसके बाद वह संक्रमण रहित हो जाता है। यह मशीन दिल्ली आईआईटी ने 1.5 लाख रुपये की लागत से विकसित किया है। दिल्ली सरकार का कहना है कि एक दो दिन की मॉनिटरिंग के बाद इस मशीन को दिल्ली की सभी मंडियों में लगाया जाएगा।

दिल्ली के विकास मंत्री गोपाल राय ने आजादपुर में स्थापित ‘फुल बॉडी सैनिटाइजर मशीन’ का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि सब्जियां आवश्यक वस्तुओं में शामिल होने की वजह से मंडी खुली हुई है। यहां आने वाले व्यापारियों और मजदूरों में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा था। लिहाजा, दिल्ली आईआईटी द्वारा विकसित ‘फुल बॉडी सैनिटाइजर मशीन’ को आजादपुर मंडी के गेट पर लगाया गया है। अब मंडी में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को इस मशीन से गुजर कर ही जाने की अनुमति होगी। इसके अंदर प्रवेश करने वाले व्यक्ति पर सोडियम हाइपो क्लोराइड की बौछार की जाती है, जिसके बाद वह पूरी तरह से सैनिटाइज हो जाता है। अगले कुछ दिनों में दिल्ली के अन्य मंडियों में भी यह मशीन लगाई जाएगी। 

आजादपुर मंडी समिति के चेयरमैन आदिल अहमद खान ने बताया कि,“यह मशीन काम करना शुरू कर दी है। मंडी में व्यापारियों और मजदूरों का लगातार जाना लगा रहता है। इसलिए मंडी में ऐहतियात के तौर पर ‘फुल बॉडी सैनिटाइजर मशीन’ की व्यवस्था की गई है। मशीन में प्रत्येक व्यक्ति के आने और जाने के दौरान उसके पूरे शरीर को सैनिटाइजर करने का सिस्टम बनाया गया है, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सके। अब मंडी में आने वाले लोग इस मशीन से ‘सैनिटाइज’ होकर ही अंदर दाखिल हो पाएंगे।”

विकास मंत्री गोपाल राय ने बताया कि इस सैनिटाइजर मशीन में प्रवेश से पहले प्रत्येक व्यक्ति के शरीर का तापमान मापा जाता है। जिनका तापमान समान्य है, उन्हें इस मशीन से गुजारा जाएगा। इस सैनिटाइजर मशीन से गुजरते ही व्यक्ति के ऊपर सोडियम हाइपो क्लोराइड युक्त सैनिटाजर की फुहार शुरू हो जाती है। मशीन की टनल से गुजरते ही संबंधित व्यक्ति पूरी तरह सैनिटाइज होकर संक्रमण रहित हो जाएगा। इस प्रक्रिया में करीब 12 से 15 सेकेंड का समय लगता है। इस तरह संक्रमण का खतरा दूर हो जाता है। 

दिल्ली सरकार ने मंडी के सभी व्यापारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखें। इसके मद्देनजर मंडी में जगह-जगह पेंट द्वारा मार्किंग की गई है, ताकि मंडी में काम करने वाले सभी लोग इसका पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन कर सकें।

पहले दिन से ही मंडियों में साफ-सफाई को लेकर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। यहां हजारों मजदूर काम करते हैं। इनकी सुरक्षा के लिए मास्क बांटे गए हैं। इसके अलावा मजदूरों को सैनिटाइजर भी दिया जा रहा है। पर्चे बांटकर भी लोगों को जागरुक किया जा रहा है। साथ ही जगह-जगह होर्डिंग्स भी लगा दिए गए हैं। मंडी में रोजाना जगह-जगह दवाई का छिड़काव किया जा रहा है। यहां आने वाले ड्राइवर और मजदूरों को सुबह और शाम का भोजन भी दिया जा रहा है। भोजन वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।