प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या, दो गिरफ्तार


हत्या में इस्तेमाल रिवाल्वर एवं फायर की गयी गोली का खोखा बरामद कर लिया गया है । युवक की हत्या हसन अली ने की और यह बात उसने इकबालिया बयान में कबूल कर ली है ।


भाषा भाषा
राज्य Updated On :

मेदिनीनगर। पलामू जिले में शुक्रवार देर रात गोली मारकर हुई युवक की हत्या के मामले का खुलासा करते हुए आज पुलिस ने सोशल मीडिया के सहारे युवक की हत्या में शामिल उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि एक अन्य अभी फरार है ।

मेदिनीनगर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संदीप कुमार गुप्ता ने शनिवार को पत्रकारों को इस गिरफ्तारी की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चैनपुर थाना क्षेत्र के 22 वर्षीय युवक अर्जुन कुमार चंद्रवंशी की हत्या की जानकारी सोशल मीडिया पर उसकी दोस्त रही विजयवाड़ा की एक युवती ने ही फोन कर के उसकी मां को दी। गुप्ता ने कहा कि युवती ने विजयवाड़ा से युवकी की मां को बताया कि उनके बेटे की हत्या उसके दोस्तों ने कर दी है।

चैनपुर थाना क्षेत्र में अर्जुन कुमार चन्द्रवंशी की कल देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। गुप्ता ने बताया कि हत्या की सूचना पुलिस को युवक की मां सुनीता देवी ने दी और बताया कि उसके बेटे को उसके दोस्तों ने ही मारा है। उसके दो दोस्त उसे घर से दशहरा घूमने के बहाने अपने साथ ले गये थे।

उन्होंने बताया कि युवक की मां ने पुलिस को सूचित किया कि आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा से एक लड़की का फोन आया था जिसने उसे बेटे की हत्या होने की सूचना दी थी। युवक की मां की सूचना पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मृतक के दोस्त हसन अली (30) और राहुल कुमार (24) को तुरत दबोच लिया,जबकि अन्य एक मुकेश कुमार अब तक फरार है जिसकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

गुप्ता ने बताया कि विजयवाड़ा की लड़की से चैनपुर के दो दोस्तों से दोस्ती थी और लड़की ने अर्जुन कुमार चन्द्रवंशी को शुक्रवार को फोन लगाया तो फोन पर सिर्फ रिंग बजने की आवाज आई और फोन उठा नहीं। संदेह होने पर उसने अपने दूसरे दोस्त फरीद मियां को फोन कर अर्जुन के बारे में पूछा और कहा कि अर्जुन फोन क्यों नहीं उठा रहा, तब फरीद ने उसे जानकारी दी कि उसकी हत्या हो गई है।

गुप्ता ने पत्रकारों को बताया कि यह जानकारी होने पर हत्या की सूचना लड़की ने मृतक की मां को तुरंत मोबाइल के जरिए दी जिससे पूरा मामला सामने आया। पुलिस ने बताया कि फरीद गिरफ्तार हसन अली का दूरस्थ रिश्तेदार है जो एक साथ रहते थे ।

हत्या में इस्तेमाल रिवाल्वर एवं फायर की गयी गोली का खोखा बरामद कर लिया गया है । युवक की हत्या हसन अली ने की और यह बात उसने इकबालिया बयान में कबूल कर ली है ।

पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर अर्जुन की हत्या किस कारण से की गयी। उन्होंने कहा हालांकि प्रथम दृष्ट्या जांच में यही बात सामने आयी है कि सोशल मीडिया के माध्यम से विजयवाड़ा की युवती से अर्जुन की भी दोस्ती उसके दूसरे दोस्तों को नागवार गुजरी और इसी रंजिश में उसकी हत्या कर दी गयी।