तमिलनाडु में उत्साह के साथ मनाया जा रहा है पोंगल


तमिलनाडु सरकार ने इससे पहले लोगों को पोंगल उपहार के रूप में 2,500 रुपये प्रदान किए थे। इसके अलावा खाद्य सामग्री की एक-एक थैली भी प्रदान की गई जिसमें चावल भी था, जो मीठे पकवान पोंगल बनाने के लिए आवश्यक होता है।


भाषा भाषा
दक्षिण भारत Updated On :
तमिलनाडु में पोंगल पर्व के लिए विशेष पकवान बनाती लड़कियां और महिलाएं।


चेन्नई। तमिलनाडु में बृहस्पतिवार को फसल उत्सव पोंगल धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर मदुरै में प्रसिद्ध जल्लीकट्टू खेल का आयोजन किया जाता है जिसमें बैलों को काबू में करना होता है।

इस दिन लोग जल्दी उठते हैं, पारंपरिक पोशाक पहनते हैं और मीठे पकवान पोंगल तैयार करते हैं। इस दिन शुभ तमिल महीने ‘थाई’ की शुरुआत होती है, जिसके दौरान विवाह करना और नए उद्यम शुरू करना शुभ माना जाता है।

कई घरों के सामने रंग-बिरंगे ‘कोल्लम’ (रंगोली) देखी गईं, जिनमें लोगों की पोंगल की शुभकामनाएं दी गई हैं, वहीं आगामी साल अच्छा रहे, इसके लिए ईश्वर से प्रार्थना भी की गई। इस अवसर पर लोगों ने एक-दूसरे को बधाई दी।

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम और द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन सहित कई नेताओं ने लोगों को इस त्योहार की शुभकामनाएं दीं।

इस अवसर पर मदुरै में, आदमी और जानवर के बीच प्रसिद्ध प्रतियोगिता ‘अवनियापुरम जल्लीकट्टू’ का आयोजन किया गया, जिनमें विजेताओं को कई पुरस्कार दिए गए। इस खेल के आयोजन से पहले और उसके दौरान, आवश्यक कोविड-19 सावधानियां बरती गईं।

परंपरा को ध्यान में रखते हुए, टॉप स्टार विजय, विजय सेतुपति और मालविका मोहनन की तमिल फिल्म ‘मास्टर’ बुधवार को सिनेमाघरों में रिलीज हुई।

तमिलनाडु सरकार ने इससे पहले लोगों को पोंगल उपहार के रूप में 2,500 रुपये प्रदान किए थे। इसके अलावा खाद्य सामग्री की एक-एक थैली भी प्रदान की गई जिसमें चावल भी था, जो मीठे पकवान पोंगल बनाने के लिए आवश्यक होता है।