अंबुजा सीमेंट कारखाने में मजदूर की मौत, आक्रोशित मजदूरों ने एम्बुलेंस को किया आग के हवाले


अंबुजा सीमेंट के कारखाने में मंगलवार देर रात मजदूर विजेन्द्र चौधरी की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। मुआवजे की मांग को लेकर मजदूरों और कारखाना प्रबंधन के बीच बात नहीं बनने पर मजदूर आक्रोशित हो गये और पत्थरबाजी की तथा एक एम्बुलेंस को आग के हवाले कर दिया।


भाषा भाषा
राजस्थान Updated On :

जयपुर। राजस्थान के नागौर जिले के मूंडवा थाना क्षेत्र स्थित एक सीमेंट कारखाने में मंगलवार देर रात एक मजदूर की मौत से आक्रोशित अन्य मजदूरों ने बुधवार को मुआवजे की मांग को लेकर कारखाने पर पत्थरबाजी की और एक एम्बुलेंस को आग के हवाले कर दिया।

थानाधिकारी बलदेव राम चौधरी ने बताया कि अंबुजा सीमेंट के कारखाने में मंगलवार देर रात मजदूर विजेन्द्र चौधरी की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। मुआवजे की मांग को लेकर मजदूरों और कारखाना प्रबंधन के बीच बात नहीं बनने पर मजदूर आक्रोशित हो गये और पत्थरबाजी की तथा एक एम्बुलेंस को आग के हवाले कर दिया।

अधिकारी ने बताया कि प्रबंधन और मजदूरों के बीच मुआवजे को लेकर बात बनने पर बुधवार को मृतक का शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। उन्होंने बताया कि मृतक के परिजनों की ओर से दी गई रिपोर्ट के आधार पर इस संबंध में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत सूचना दर्ज की गई है।

नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने सीमेंट कारखाने में मजदूर की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए केन्द्रीय मंत्री संतोष गंगवार और प्रकाश जावड़ेकर से मामले का संज्ञान लेने की अपील की है।

बेनीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘ मुंडवा में निर्माणाधीन अम्बुजा सीमेंट प्लांट में मजदूर की मृत्यु का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ, मजूदरों के अनुसार कंपनी द्वारा दमनकारी नीति से रात-दिन कार्य करवाया जाता है तथा उक्त घटना की सच्चाई से मजदूरों व मृतक के परिजनों को अवगत नहीं करवाया जा रहा है।’’