हिंदू जागरण मंत्र ने तनिष्क के खिलाफ खोला मोर्चा, सभी शो-रूमों में छह महीने तक “क्षमा पत्र” लगाने की मांग की


हिंदू जागरण मंच ने शुक्रवार को कहा, “तनिष्क के आपत्तिजनक विज्ञापन से हिंदू समुदाय की भावनाओं को आघात पहुंचा है। …इन प्रतिष्ठानों में अगले छह महीने तक क्षमा पत्र लगाकर हिंदू समुदाय से माफी मांगी जाए और भरोसा दिलाया जाए कि आइंदा ऐसे कृत्य को दोहराया नहीं जाएगा।”


भाषा भाषा
राज्य Updated On :

इंदौर। अलग-अलग धर्मों को मानने वाले लोगों के एक परिवार को दिखाने वाले तनिष्क के विवादित टीवी विज्ञापन के खिलाफ यहां हिंदू जागरण मंच ने मोर्चा खोल दिया है। संगठन ने मांग की है कि आभूषण ब्रांड के तीन स्थानीय शो-रूमों में अगले छह महीने तक माफीनामा लगाकर इस विज्ञापन के लिए हिंदू समुदाय के लोगों से क्षमा याचना की जाए।

हिंदू जागरण मंच के मालवा प्रांत के प्रचार प्रमुख ने राजपाल जोशी ने शुक्रवार को कहा, “तनिष्क के आपत्तिजनक विज्ञापन से हिंदू समुदाय की भावनाओं को आघात पहुंचा है। इसलिए हमने इस आभूषण ब्रांड के तीन स्थानीय शो-रूम के कर्मचारियों से अनुरोध किया है कि इन प्रतिष्ठानों में अगले छह महीने तक क्षमा पत्र लगाकर हिंदू समुदाय से माफी मांगी जाए और भरोसा दिलाया जाए कि आइंदा ऐसे कृत्य को दोहराया नहीं जाएगा।”

जोशी ने बताया कि हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने इस विज्ञापन के खिलाफ शहर के अलग-अलग स्थानों पर तनिष्क के तीन शो-रूमों के बाहर बृहस्पतिवार को शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया और इस दौरान शो-रूम कर्मचारियों को भगवा दुपट्टे भेंट किए गए।

उन्होंने बताया कि हिंदू जागरण मंच की ओर से स्थानीय पुलिस को ज्ञापन भी दिया गया है कि तनिष्क के विवादास्पद विज्ञापन के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए।

पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी क्षेत्र) महेशचंद्र जैन ने हिंदू जागरण मंच का ज्ञापन मिलने की पुष्टि करते हुए कहा, “हमने यह ज्ञापन लिया है। लेकिन विज्ञापन विवाद में स्थानीय पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने का फिलहाल कोई भी आधार प्रतीत नहीं होता है।”

गौरतलब है कि तनिष्क के विज्ञापन में एक मुस्लिम महिला को अपनी हिंदू बहू की “गोद-भराई” की रस्म की तैयारी करते दिखाया गया है। हालांकि, “लव जिहाद” और “फर्जी धर्मनिरपेक्षता” को बढ़ावा देने के आरोपों के साथ सोशल मीडिया पर तीखे हमलों के बाद आभूषण ब्रांड इस विज्ञापन को वापस ले चुका है।