सेव द चिल्ड्रन ने कहा- जी7 नेताओं के सम्मेलन ने बच्चों की स्थिति बदलने का एक महत्वपूर्ण अवसर गंवा दिया


बाल अधिकार एनजीओ ‘सेव द चिल्ड्रन’ ने कहा कि दुनिया के सर्वाधिक शक्तिशाली देशों के संगठन जी7 ने सम्मेलन में विश्व के सबसे गरीब बच्चों के हालात बदलने का एक महत्वपूर्ण अवसर गंवा दिया।


भाषा भाषा
दिल्ली Updated On :

नई दिल्ली। बाल अधिकार एनजीओ ‘सेव द चिल्ड्रन’ ने कहा कि दुनिया के सर्वाधिक शक्तिशाली देशों के संगठन जी7 ने सम्मेलन में विश्व के सबसे गरीब बच्चों के हालात बदलने का एक महत्वपूर्ण अवसर गंवा दिया। एनजीओ ने कहा कि कोविड-19 महामारी ने बच्चों के जीवन को तहस-नहस कर दिया है।

‘सेव द चिल्ड्रन इन इंडिया’ के सीईओ सुदर्शन सुची ने कहा, ‘महामारी के दौरान जी7 देशों के नेताओं का सम्मेलन हुआ, लेकिन आप इसमें हुए समझौते को देखकर समझ नहीं पाएंगे कि हम एक के बाद एक सिलसिलेवार आपात स्थिति का सामना कर रहे हैं।’

उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों ने जी-7 सम्मेलन में विश्व के सबसे गरीब बच्चों के हालात बदलने का एक महत्वपूर्ण अवसर गंवा दिया।

उन्होंने कहा, ‘उन सभी को सुरक्षित रूप से स्कूल वापस लाने की योजना के बजाय, हमने पर्याप्त धन के बिना शिक्षा को पटरी पर लाने की घोषणा की है।’