दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर केजरीवाल सरकार ने दिए दिशा-निर्देश, जानिए कोरोना को लेकर तैयारियां


केजरीवाल ने दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर कहा है कि इस लहर में मौतें कम हो रही हैं, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
दिल्ली Updated On :

नई दिल्ली। दिल्ली में बढ़ते संक्रमण के मामलों को देखते हुए, सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कोरोना संक्रमित होने के दौरान की स्थिति के बारे में भी बताया।

सीएम केजरीवाल ने बताया कि उन्हें कोरोना हो गया था। उन्हें 2 दिन तक बुखार रहा और जिस दौरान वह लगभग 7-8 दिन होम आइसोलेशन में रहे। जिसके बाद वह ठीक हो गए।

इन सब बातों को देखते हुए केजरीवाल ने दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर कहा है कि इस लहर में मौतें कम हो रही हैं, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है। हालांकि, उन्होेंने ये भी कहा कि दिल्ली में कोरोना के केस तेज़ी से बढ़ रहे हैं, यह एक चिंता का विषय है।

दिल्ली सरकार की तैयारियां

सीएम केजरीवाल ने बताया कि पिछली जो लहर अप्रैल-मई में आई थी, तब 7 मई को रोजाना इतने ही मामले सामने आ रहे थे। उस दिन 341 मौत हुई थी, तब दिल्ली में 20,000 बेड भरे हुए थे। उन्होंने शनिवार के आंकड़ों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कल जब 20000 मामले आए उसके बाद लगभग डेढ़ हजार बेड भर गए हैं। लेकिन इस दौरान मौत के मामले भी काफी कम आएं हैं। इसलिए लोगों को अस्पताल जाने की जरूरत भी काफी कम पड़ रही है।

सीएम केजरीवाल के दिशा-निर्देश

अरविंद केजरीवाल ने डाटा शेयर करने के साथ ही कॉन्फ्रेंस में ये भी कहा कि, इस जानकारी का ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि आप गैर जिम्मेदार हो जाएं और मास्क पहनना बंद कर दें, बल्कि इससे मतलब यह है कि आप सबको घबराने की जरूरत नहीं है। इसी के साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाया, वह वैक्सीन जरूर लगवा लें, क्योंकि वैक्सीन का मतलब यह नहीं है कि आप संक्रमित नहीं होंगे, लेकिन वक्त से वैक्सीन लगवाने से आपकी जान के ऊपर खतरा कम हो जाता है।

लॉकडाउन को लेकर सरकार की मंशा

सीएम अऱविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन को लेकर बताया है कि फिलहाल सरकार की लॉकडाउन लगाने की कोई मंशा नहीं है। उन्होंने कहा कि एलजी साहब और मैं पूरे हालात पर नजर रखे हुए हैं। कल डीडीएमए की बैठक है। जिस दौरान हम हालात की समीक्षा करेंगे। बेहरहाल केंद्र सरकार से भी हम लगातार संपर्क में हैं और केंद्र सरकार से हमको पूरा सहयोग मिल रहा है।

वैक्सीन से कम होता है जान का खतरा

सीएम केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाया, वह वैक्सीन जरूर लगवा लें, क्योंकि वैक्सीन का मतलब यह नहीं है कि आप संक्रमित नहीं होंगे, लेकिन वक्त से वैक्सीन लगवाने से आपकी जान के ऊपर खतरा कम हो जाता है.