क्रिकेट दोबारा शुरू होने पर तेज गेंदबाजों को अधिक सतर्क रहना होगा: पठान


तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर ने महाराष्ट्र के बोइसर में मई में ट्रेनिंग शुरू की जबकि ऋषभ पंत और सुरेश रैना ने हाल में गाजियाबाद में नेट अभ्यास किया। अन्य खिलाड़ियों में चेतेश्वर पुजारा, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा भी ट्रेनिंग शुरू कर चुके हैं।


भाषा भाषा
खेल Updated On :

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज इरफान पठान का मानना है कि कोरोना वायरस के कारण ब्रेक के बाद जब वापसी करेंगे तो तेज गेंदबाजों को लय में आने में कम से कम चार से छह हफ्ते का समय लगेगा।

कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन के कारण भारत में अधिकतर क्रिकेटर मार्च से ही अभ्यास नहीं कर पाए हैं।

तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर ने महाराष्ट्र के बोइसर में मई में ट्रेनिंग शुरू की जबकि ऋषभ पंत और सुरेश रैना ने हाल में गाजियाबाद में नेट अभ्यास किया। अन्य खिलाड़ियों में चेतेश्वर पुजारा, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा भी ट्रेनिंग शुरू कर चुके हैं।

भारत की ओर से 29 टेस्ट और 120 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले पठान ने स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड पर कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैं तेज गेंदबाजों को लेकर चिंतित हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने लय हासिल करने के लिए चार से छह हफ्ते का समय लग सकता है। यह मुश्किल काम है और अगर आप 140-150 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हो, एक गेंद फेंकने के लिए 25 गज दौड़ते हो और फिर कुछ ओवर फेंकते तो यह मुश्किल है।’’

पठान ने कहा, ‘‘हमारे शरीर में जकड़न आ जाती है, चोट का प्रबंधन भी अहम होगा क्योंकि मुझे लगता है कि किसी भी तेज गेंदबाज को लय में आने में कम से कम चार से छह हफ्ते का समय लगता है इसलिए मुझे लगता है कि तेज गेंदबाजों को स्पिनरों और बल्लेबाजों की तुलना में थोड़ा अधिक सतर्क रहना होगा।’’