2018 में भारत का ऑस्ट्रलियाई दौरा मेरे करियर का सबसे डरावना पल : जस्टिन लैंगर


भारत के खिलाफ घरेलू श्रृंखला मे मिली अभूतपूर्व हार आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर के लिये ‘खतरे की घंटी’ रही और उनका मानना है कि वह श्रृंखला उनके कोचिंग कैरियर का निर्णायक दौर भी रही ।


भाषा भाषा
खेल Updated On :

भारत के खिलाफ घरेलू श्रृंखला मे मिली अभूतपूर्व हार आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर के लिये ‘खतरे की घंटी’ रही और उनका मानना है कि वह श्रृंखला उनके कोचिंग कैरियर का निर्णायक दौर भी रही ।

लैंगर को मई 2018 में आस्ट्रेलिया का कोच बनाया गया था । उसी समय कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान जस्टिन लैंगर गेंद से छेड़खानी मामले में प्रतिबंधित हो गए थे ।

अपने स्टार बल्लेबाजों के बिना आस्ट्रेलियाई टीम भारत के सामने टिक नहीं सकी ।

लैंगर ने आस्ट्रेलियाई एसोसिएट प्रेस को एक पॉडकास्ट में कहा ,‘‘ यह खतरे की घंटी थी और मेरे जीवन का कठिन दौर ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे इसमें कोई शक नहीं कि दस साल बाद जब मैं अपने कोचिंग कैरियर की समीक्षा करूंगा तो वह श्रृंखला निर्णायिक साबित होगी ।’’

उन्होंने अपने कैरियर के एक और कठिन दौर का जिक्र किया जब 2001 एशेज श्रृंखला में उन्हें टीम से निकाल दिया गया था ।
आपको बता दें कि हाल ही में माइकल क्लार्क ने भारत के 2018 दौरे पर ऑस्ट्रलियाई खिलाड़ियों के तरीके पर सवाल उठाया था जिसके बाद वो टीम पेन और पेट कम्मिंस के निशाने पर आ गए थे.