TRP CASE : ‘रिपब्लिक टीवी के पत्रकारों का उत्पीड़न बंद होना चाहिये’-एडिटर्स गिल्ड

भाषा भाषा
देश Updated On :

नई दिल्ली। एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने सोमवार को कहा कि वह रिपब्लिक टीवी के पत्रकारों के खिलाफ प्राथमिकियां दर्ज किये जाने से ‘दुखी’ है। उसने कहा कि पत्रकारों का उत्पीड़न तत्काल बंद होना चाहिये।

रिपब्लिक टीवी के खिलाफ टीआरपी से कथित छेड़छाड़ और मुंबई पुलिस के खिलाफ कथित रूप से गलत खबरें चलाने के मामले में जांच चल रही है। गिल्ड ने एक बयान में चैनल से भी जिम्मेदाराना व्यवहार की अपेक्षा जताई। साथ ही उसने इसके पत्रकारों की सुरक्षा और मीडिया की सामूहिक विश्वसनीयता से किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करने की भी बात कही है।

गिल्ड ने कहा कि रिपब्लिक टीवी के पत्रकारों के खिलाफ सैंकड़ों प्राथमिकियां दर्ज किया जाना ‘दुखदायी’ है। गिल्ड ने कहा, ‘हम अधिकारियों द्वारा की जा रही जांच को प्रभावित नहीं करना चाहते, लेकिन पत्रकारों का उत्पीड़न बंद होना चाहिये।’

 



Related