शौर्य चक्र बलविंदर की गोली मार कर हत्या, सरकार ने वापस ली थी सुरक्षा


बलविंदर सिंह संधू के भाई रंजीत ने कहा कि तरन तारन पुलिस की सिफारिश पर राज्य सरकार द्वारा एक वर्ष पहले संधू की सुरक्षा वापस ले ली गई थी। उन्होंने कहा कि उनका पूरा परिवार आतंकवादियों के निशाने पर रहा


भाषा भाषा
देश Updated On :

अमृतसर/चंडीगढ़। पंजाब में खालिस्तानी आतंकवाद से लोहा ले चुके एवं शौर्य चक्र से सम्मानित बलविंदर सिंह संधू की तरन तारन जिले में दो अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। जब पंजाब में खालिस्तानी आतंकवाद चरम पर था तब उन पर कई आतंकवादी हमले किये गए थे। तरन तारन पुलिस की सिफारिश के बाद सरकार ने कुछ समय पहले उनकी सुरक्षा वापस ले ली थी।

पुलिस ने बताया कि मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने 62 वर्षीय संधू को उस समय चार गोलियां मारी जब वह जिले में भीखीविंड गांव स्थित अपने घर से लगे दफ्तर में थे। हमलावर हमला करने के बाद फरार हो गये। संधू को अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

बलविंदर सिंह संधू के भाई रंजीत ने कहा कि तरन तारन पुलिस की सिफारिश पर राज्य सरकार द्वारा एक वर्ष पहले संधू की सुरक्षा वापस ले ली गई थी। उन्होंने कहा कि उनका पूरा परिवार आतंकवादियों के निशाने पर रहा। बलविंदर की पत्नी जगदीश कौर ने कहा कि यह आतंकवादियों का काम है। उनके परिवार की किसी के साथ कोई निजी दुश्मनी नहीं है।

जगदीश कौर ने कहा, आतंकवादियों द्वारा मेरे परिवार पर 62 हमले किये गए। हमने डीजीपी दिनकर गुप्ता से सुरक्षा के लिए कई अनुरोध किए लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने संधू की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया और उनकी हत्या की जांच के लिए फिरोजपुर उप महानिरीक्षक के नेतृत्व में SIT का गठन किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एसआईटी हत्या की जांच करेगी और सभी संभावनाओं पर गौर करेगी। उन्होंने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिनकर गुप्ता ने कहा कि दो अज्ञात हमलावरों ने शाम करीब सात बजे संधू की हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि संधू की मौके पर ही मौत हो गई।

डीजीपी ने एक बयान में कहा कि क्षेत्र लगे एक सीसीटीवी की फुटेज में दिखा है कि दो अज्ञात हमलावर संधू के मकान पर पहुंचे और उनमें से एक परिसर में घुसा और संधू पर बेहद नजदीक से गोली चलायी। उन्होंने कहा कि वाहन और उसके पंजीकरण नम्बर का पता लगाया जा रहा है।

हत्यारों की गिरफ्तारी तक नहीं करेंगे अंतिम संस्कार
शौर्य चक्र से सम्मानित बलविंदर सिंह संधू के परिवार ने पंजाब के तरन तारन में उनकी गोली मारकर हत्या करने वाले हमलावरों की गिरफ्तारी होने तक अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया है।

संधू की पत्नी जगदीश कौर संधू ने कहा, जब तक हत्यारों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तब तक परिवार उनका अंतिम संस्कार नहीं करेगा। उन्होंने अपने परिवार के लिये सुरक्षा भी मांगी। संधू के भाई रंजीत ने कहा कि पूरा परिवार आतंकवादियों की हिट लिस्ट में रहा है।



Related