दिल्ली के सरकारी अस्पताल में वेंटिलेटर नहीं मिलने से नवजात की मौत


अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि बच्चे का जन्म बृहस्पतिवार को मालवीय नगर में दिल्ली सरकार द्वारा संचालित अस्पताल में हुआ था और उसे लुटियंस दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पताल में रेफर किया जाना था क्योंकि इस अस्पताल में वेंटिलेटर की कमी थी।


भाषा भाषा
देश Updated On :

नई दिल्ली। दिल्ली के एक सरकारी अस्पताल में कथित तौर पर वेंटिलेटर उपलब्ध न होने के कारण एक नवजात शिशु की मौत हो गई, जिसके बाद गुस्साए परिजनों ने एक नर्स को कुछ देर के लिए कमरे में बंद कर दिया।

अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि बच्चे का जन्म बृहस्पतिवार को मालवीय नगर में दिल्ली सरकार द्वारा संचालित अस्पताल में हुआ था और उसे लुटियंस दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पताल में रेफर किया जाना था क्योंकि इस अस्पताल में वेंटिलेटर की कमी थी।

बाद में केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पताल में बच्चे की मौत हो गई, जिसके बाद नवजात के नाराज रिश्तेदारों ने अस्पताल की नर्स को कुछ समय के लिए एक कमरे में बंद कर दिया।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्यकर्मी को कथित तौर पर बंद करने को लेकर आए फोन के बाद एक टीम को अस्पताल भेजा गया।

अधिकारी ने बताया कि घटना के संबंध में अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।