दिल्ली में भारी बारिश, तालाब में तब्दील हुई कई सड़कें


अधिकारियों ने बताया कि मिंटो ब्रिज के नीचे अंडरपास में जलभराव के कारण फंस गई एक बस के चालक और परिचालक को दमकल विभाग के कर्मियों ने सुरक्षित बाहर निकाला। मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला में सुबह साढ़े आठ बजे तक 74.8 मिमी बारिश दर्ज की गई।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
देश Updated On :

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को भारी बारिश के कारण कई निचले इलाकों में सड़कों पर पानी भर गया और शहर में अहम स्थानों पर यातायात बाधित हो गया।

दिल्ली यातायात पुलिस के अनुसार आजादपुर से मुकरबा चौक तक, यशवंत प्लेस से अशोका रोड तक, रिंग रोड पर, भैरों रोड और मुंडका मेट्रो स्टेशन के निकट सड़कों पर पानी भर गया है।

अधिकारियों ने बताया कि मिंटो ब्रिज के नीचे अंडरपास में जलभराव के कारण फंस गई एक बस के चालक और परिचालक को दमकल विभाग के कर्मियों ने सुरक्षित बाहर निकाला। मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला में सुबह साढ़े आठ बजे तक 74.8 मिमी बारिश दर्ज की गई।

उसने बताया कि रिज, लोधी रोड, पालम और आया नगर मौसम केंद्रों में क्रमश: 86 मिमी, 81.2 मिमी, 16.9 मिमी और 12.2 मिमी बारिश दर्ज की।

कई निवासियों ने सोशल मीडिया पर वीडियो और तस्वीरें साझा की हैं, जिनमें बारिश का पानी लोगों के घरों में आता दिख रहा है और पानी से भरी सड़कों से निकलने की कोशिश करते वाहन नजर आ रहे हैं। युवा कांग्रेस ने एक वीडियो साझा किया है, जिसमें उसके रायसीना रोड कार्यालय में पानी भरा नजर आ रहा है।

आईएमडी ने बताया कि 15 मिमी से कम बारिश हल्की, 15 मिमी से 64.5 मिमी तक बारिश मध्यम और 64.5 से अधिक बारिश भारी मानी जाती है।

कई निवासियों ने सोशल मीडिया पर वीडियो और तस्वीरें साझा की हैं, जिनमें बारिश का पानी लोगों के घरों में आता दिख रहा है और पानी से भरी सड़कों से निकलने की कोशिश करते वाहन नजर आ रहे हैं। युवा कांग्रेस ने एक वीडियो साझा किया है, जिसमें उसके रायसीना रोड कार्यालय में पानी भरा नजर आ रहा है। साथ ही युथ कांग्रेस ने एक टीवी पर भारी से दिल्ली में उपजी समस्या पर लेकर भी ट्वीट किया है।

बारिश के कारण कई इलाकों में बिजली भी गुल हो गई। इससे पहले, मौसम विज्ञान विभाग ने पश्चिमोत्तर भारत में कई स्थानों पर भारी से बहुत भारी होने का पूर्वानुमान जताया था। उसने कहा था, ‘‘पूरा मानसून 19-20 जुलाई के दौरान उत्तर की ओर यानी हिमालय की तलहटी के करीब जा सकता है।’’

दिल्ली में मानसून के समय से पहले पहुंचने के बावजूद अब तक बहुत हल्की बारिश हुई है। आईएमडी के अनुसार सफदरजंग वेधशाला ने जुलाई में अभी तक 47.9 मिमी बारिश दर्ज की जो 109.4 मिमी सामान्य बारिश से 56 फीसदी कम है। मानसून 25 जून को दिल्ली पहुंचा था। आम तौर पर यह 27 जून को यहां पहुंचता है। मौसम विज्ञान विभाग ने इस मौसम में राष्ट्रीय राजधानी में सामान्य बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है।



Related