चोकसी के अपहरण के मामले में संलिप्तता के आरोप से गुरजीत भंडाल ने किया इनकार


भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के एंटीगुआ एवं बारबुडा से 23 मई को हुए कथित अपहरण में लिप्तता के आरोपों को खारिज करते हुए गुरजीत भंडाल ने कहा कि वह तो कैरिबियाई द्वीप देश से 23 मई की सुबह ही नौका से रवाना हो गए थे।


भाषा भाषा
देश Updated On :

नई दिल्ली। भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के एंटीगुआ एवं बारबुडा से 23 मई को हुए कथित अपहरण में लिप्तता के आरोपों को खारिज करते हुए गुरजीत भंडाल ने कहा कि वह तो कैरिबियाई द्वीप देश से 23 मई की सुबह ही नौका से रवाना हो गए थे।

स्थानीय मीडिया की खबरों के अनुसार, चोकसी ने एंटीगुआ पुलिस से की शिकायत में दावा किया था कि 23 मई की शाम को वह उस स्थान पर गए थे जहां उनकी ‘‘मित्र’’ बारबरा जबरिका ठहरी हुई थी, तभी उनका अपहरण कर लिया गया था। जबरिका भी इस मामले में संदिग्ध है। चोकसी ने जबरिका, नरिंदर सिंह और गुरमीत सिंह के अलावा अज्ञात लोगों पर अपहरण करने का आरोप लगाया है।

वेबसाइट ‘राइट्अप्स24डॉटकॉम’ की खबर के अनुसार, भंडाल का ब्रिटेन के मिडलैंड्स में सम्पत्ति का कारोबार है। उन्होंने दावा किया कि वह अप्रैल-मई में अपने दोस्त गुरमीत सिंह के साथ कैरिबियाई द्वीप गए थे।

भंडाल ने चौकसी के कथित अपहरण में किसी भी तरह की संलिप्तता होने से इनकार करते हुए कहा कि वह जांच में ‘‘पुलिस का सहयोग करेंगे’’ हालांकि एंटीगुआ पुलिस ने अभी तक उनसे कोई सम्पर्क नहीं किया है। उन्होंने वेबसाइट को बताया कि वह और सिंह 23 मई को एंटीगुआ के इंग्लिश हार्बर पर थे और सुबह ही वह डोमिनिका के लिए निकल गए थे।

उन्होंने वबेसाइट को फोन पर दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘हम 23 मई, रविवार रात को डोमिनिका पहुंचे। उसी दिन हम एंटीगुआ से रवाना हुए थे और 24 मई को हमें सीमा शुल्क विभाग से मंजूरी मिली।’’

चोकसी ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि 23 मई शाम को एंटीगुआ से उसका अपहरण किया गया और नौका से उसे डोमिनिका ले जाया गया, अगले दिन सुबह करीब 10 बजे नौका पर डोमिनिका के तटरक्षक बल को उसे सौंप दिया गया।

भंडाल ने कहा कि उनकी योजना डोमिनिका से सेंट लूसिया जाने की थी, लेकिन समुद्र में यात्रा करने वह बीमार हो गए थे और इसलिए उन्होंने आगे की यात्रा रद्द करने का फैसला किया। जबकि भंडाल नियमित रूप से नौका में यात्रा करते हैं।

भंडाल ने बताया कि वह और सिंह अकसर भूमध्य-सागर में ‘‘एकसाथ समुद्र की यात्रा करते हैं’’ लेकिन इस बार उन्होंने कैरिबिया जाने का फैसला किया था। वेबसाइट ने उनके हवाले से बताया, ‘‘हम डोमिनिका से एक चार्टर में बारबाडोस चले गए थे।’’

चोकसी की ‘‘मित्र’’ बारबरा जबरिका के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि वह उन्हें नहीं जानते लेकिन कैरिबिया में हवाई यात्रा के दौरान कई लोगों से मिलते रहते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ कैरिबिया के लिए 21 विमान सेवाएं हैं लेकिन कोविड-19 के कारण एक सप्ताह में केवल दो उड़ानें ही उपलब्ध हैं। इससे एक ही इंसान से बार-बार मिलने की संभावना बढ़ जाती है।’’

उन्होंने कहा कि वह सिंह के साथ अप्रैल से ही समुद्र यात्रा कर रहे हैं, अभी तक वह चार दिन एंटीगुआ, एक दिन डोमिनिका और चार दिन सेंट लूसिया में ठहर चुके हैं। मई में वह क्षेत्र में दूसरी बार गए थे, लेकिन पहली यात्रा के दौरान इस्तेमाल की गई नौका उन्हें नहीं मिल पाई थी, इसलिए उन्होंने ऑनलाइन ‘कैलीओप ऑफ अर्ने’ नौका बुक की थी।

गौरतलब है कि चोकसी 23 मई को रहस्यमयी परिस्थितियों में एंटीगुआ एवं बारबुडा से लापता हो गया था। 2018 से बतौर नागरिक वह वहां रह रहा था। लापता होने के बाद में उसे डोमिनिका में अवैध प्रवेश करने पर पकड़ा गया था। चोकसी के वकीलों ने आरोप लगाया है कि एंटीगुआई और भारतीय जैसे दिखने वाले पुलिसकर्मियों ने उनके मुवक्किल का अपहरण कर लिया तथा उसे नौका के जरिए डोमिनिका पहुंचा दिया।

चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी पर कुछ बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ कथित तौर पर 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप है। नीरव मोदी अभी लंदन की एक जेल में बंद है। दोनों के खिलाफ केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) जांच कर रहा है।



Related