EASE OF LIFE INDEX : बेंगलुरू, शिमला रहने के लिए सबसे सुगम शहर, दिल्ली का 13वां स्थान


10 लाख से अधिक की आबादी’ की श्रेणी में जीवन सुगमता सूचकांक में गाजियाबाद 30वें, प्रयागराज 32वें, पटना 33वें, मेरठ 36वें और फरीदाबाद 40वें पायदान पर रहा। शहरों के प्रदर्शन को चार व्यापक मापदंडों पर मापा गया है, जिसमें शासन एवं सामाजिक, भौतिक और आर्थिक बुनियादी ढांचा शामिल हैं।


भाषा भाषा
देश Updated On :

नई दिल्ली। सरकार के जीवन सुगमता सूचकांक में 111 शहरों में से बेंगलुरू को रहने के लिए देश का सबसे सुगम शहर चुना गया है।

इस सूचकांक में पुणे दूसरे और अहमदाबाद तीसरे स्थान पर रहा। चेन्नई, सूरत, नवी मुंबई, कोयंबटूर, वडोदरा, इंदौर और ग्रेटर मुंबई भी शीर्ष 10 शहरों में शामिल रहे। 10 लाख से अधिक की आबादी’ की इस श्रेणी में जीवन सुगमता सूचकांक में शामिल 49 शहरों में दिल्ली 13वें और श्रीनगर सबसे निचले स्थान पर रहा।

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बृहस्पतिवार को यह सूचकांक जारी किया। सूचकांक के अनुसार, ‘10 लाख से कम जनसंख्या वाले शहरों’ की श्रेणी में शिमला शीर्ष पर रहा।

इस श्रेणी में भुवनेश्वर दूसरे और सिलवासा तीसरे स्थान पर रहा। काकीनाडा, सेलम, वेल्लोर, गांधीनगर, गुरुग्राम, दावणगेरे और तिरुचिरापल्ली इस श्रेणी में शीर्ष 10 शहरों में शामिल रहे। कुल 62 शहरों की इस श्रेणी में मुजफ्फरपुर सबसे निचले पायदान पर रहा।

10 लाख से अधिक की आबादी’ की श्रेणी में जीवन सुगमता सूचकांक में गाजियाबाद 30वें, प्रयागराज 32वें, पटना 33वें, मेरठ 36वें और फरीदाबाद 40वें पायदान पर रहा। शहरों के प्रदर्शन को चार व्यापक मापदंडों पर मापा गया है, जिसमें शासन एवं सामाजिक, भौतिक और आर्थिक बुनियादी ढांचा शामिल हैं। देश के 111 शहरों में किए गए ‘नागरिक धारणा सर्वेक्षण’ में 32.2 लाख लोगों ने हिस्सा लिया।

पुरी ने कहा, ‘ ये शहर विकास का प्रारूप बनकर उभरे हैं जोकि अन्य को बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रेरित करेंगे।’

वर्ष 2018 में जारी जीवन सुगमता सूचकांक में पुणे को रहने के लिहाज से देश का सबसे अच्छा शहर माना गया था। तब दूसरे स्थान पर नवी मुंबई और तीसरे पर ग्रेटर मुंबई था जोकि वर्ष 2020 के सूचकांक में क्रमश: छठे और 10वें स्थान पर लुढ़क गए हैं।

नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद ने 10 लाख से कम आबादी की श्रेणी में ‘नगरपालिका प्रदर्शन सूचकांक 2020’ में पहला स्थान हासिल किया। इस श्रेणी में तिरुपति, गांधीनगर, करनाल, सेलम, तिरुपुर, बिलासपुर, उदयपुर, झांसी और तिरुनेलवेली शीर्ष 10 स्थान पर रहे।

इंदौर ने 10 लाख से अधिक आबादी की श्रेणी में ‘नगरपालिका प्रदर्शन सूचकांक’ में शीर्ष स्थान हासिल किया। इस श्रेणी में दूसरा स्थान सूरत और तीसरा स्थान भोपाल ने हासिल किया। पिंपरी चिंचवड़, पुणे, अहमदाबाद, रायपुर, ग्रेटर मुंबई, विशाखापत्तनम और वडोदरा इस श्रेणी में शीर्ष 10 स्थान पर रहे।



Related