दिल्ली में कोरोना का कहर जारी : मी लॉर्ड को भी हुआ कोरोना


जिला न्यायाधीश पूनम ए बंबा की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट मयूरी सिंह नौ जून को कोविड-19 से संक्रमित पाई गई हैं। परिपत्र में कहा गया है कि वह आखिरी बार तीन जून को अदालत आई थीं।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
देश Updated On :

नई दिल्ली। दिल्ली की साकेत जिला अदालत में एक न्यायाधीश कोविड-19 से संक्रमित पाई गई हैं। बुधवार को एक परिपत्र में यह जानकारी दी गई है।

जिला न्यायाधीश पूनम ए बंबा की ओर से जारी परिपत्र में कहा गया है कि मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट मयूरी सिंह नौ जून को कोविड-19 से संक्रमित पाई गई हैं। परिपत्र में कहा गया है कि वह आखिरी बार तीन जून को अदालत आई थीं। 

जिला न्यायाधीश बंबा ने साकेत अदालत परिसर के रख-रखाव की जिम्मेदार शाखा को तत्काल परिसर को सील करने और मजिस्ट्रेट के कक्ष, अदालत के स्टाफ रूम और उससे लगे अपने चैंबर को संक्रमण मुक्त करने के लिए कहा है।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के बाद देश की राजधानी कोरोना का हाट-स्पॉट बनती जा रही है और केंद्रीय स्वास्थ विभाग के आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 के 1,366 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या 31,000 के पार चली गई है जबकि अब तक 905 लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार को जारी ताजा बुलेटिन के अनुसार अब भी 18,543 लोगों का इलाज चल रहा है, जबकि 11,861 मरीज या तो स्वस्थ हो गए या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई या वे कहीं और चले गए हैं। मंगलवार को कोई स्वास्थ्य बुलेटिन जारी नहीं किया गया था।

स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया है कि दिल्ली में 1,366 नए मामले सामने आने के बाद कोविड-19 के मामले बढ़कर 31,309 हो गए हैं। इसमें कहा गया है कि आठ जून को कुल 34 लोगों की मौत की जानकारी दी गई। इन लोगों की मौत 28 मई से सात जून के बीच हुई।

आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार तक कुल 2,61,079 लोगों की कोविड-19 के लिए जांच की गई। विभाग ने बताया कि घर में पृथक-वास कर रहे कोविड-19 के मरीजों की संख्या 14,556 है। संक्रमण के 320 मरीज वेंटीलेटर्स पर या आईसीयू में हैं। निषेध क्षेत्रों की संख्या 188 है।


Related