सीवीसी ने सरकारी विभागों से भ्रष्टाचार की शिकायतों पर जांच रिपोर्ट समय पर भेजने को कहा

मंज़ूर अहमद मंज़ूर अहमद
देश Updated On :

नई दिल्ली। केंद्रीय सतर्कता आयोग ने केंद्र सरकार के सभी विभागों से कहा है कि भ्रष्टाचार की शिकायतों की जांच रिपोर्ट वे समय पर दें, साथ ही चेतावनी दी कि तय समय-सीमा का पालन नहीं करने को गंभीरता से लिया जाएगा।

केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) ने मुख्य सतर्कता अधिकारियों (सीवीओ) से ये रिपोर्ट मांगी। सीवीओ केंद्र सरकार के विभागों, संगठनों के खिलाफ मिलने वाली भ्रष्टाचार की शिकायतों की जांच करते हैं। ऐसे मामलों की शिकायत मिलने पर सीवीओ को तीन महीने के भीतर जांच रिपोर्ट जमा करनी होती है।

सीवीसी ने कहा, ‘‘आयोग को पता चला है कि विभाग/संगठन तय समयसीमा का पालन नहीं कर रहे हैं जिसकी वजह से मामलों में बेवजह देरी हो रही है तथा शिकायत पर समयबद्ध कार्रवाई नहीं हो पा रही।’’

आयोग ने वर्तमान निर्देशों की समीक्षा के बाद कहा कि विभागों/संगठनों के सीवीओ तीन महीने की समयसीमा का ध्यान रखें। इस संबंध में शुक्रवार को केंद्र सरकार के सभी विभागों और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के सीवीओ को निर्देश जारी किए गए।


Related