CM केजरीवाल ने तिसरी लहर पर कहा- दिल्ली में ऑक्सीजन भंडारण क्षमता बढ़ायी गयी


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारी के तौर पर शहर में अभी तक कुल 171 मीट्रिक टन की क्षमता वाले तीन ऑक्सीजन भंडार संयंत्र लगाए गए हैं।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
देश Updated On :

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारी के तौर पर शहर में अभी तक कुल 171 मीट्रिक टन की क्षमता वाले तीन ऑक्सीजन भंडार संयंत्र लगाए गए हैं।

उन्होंने सिरसपुर में स्थित ऑक्सीजन भंडार संयंत्र का दौरा करने के बाद कहा कि यहां 57 मीट्रिक टन ऑक्सीजन भंडारण क्षमता का क्रायोजेनिक टैंक लगाया जा रहा है और साथ ही यहां हर दिन 12.5 टन की क्षमता वाला ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र भी बना रहे हैं।

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘हमने कुल 171 एमटी क्षमता के साथ प्रत्येक 57 एमटी क्षमता वाले तीन ऑक्सीजन भंडारण संयंत्र अभी तक लगा दिए हैं। युद्ध स्तर पर काम चल रहा है। उन लोगों का आभारी हूं जिनकी वजह से यह संभव हुआ है।’’

गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल और मई में मामले बढ़ने के कारण ऑक्सीजन की भारी किल्लत का सामना करना पड़ा था। जीवनदायिनी गैस की कमी के कारण शहर के दो अस्पतालों में कुछ कोविड-19 मरीजों की मौत हो गयी थी।

मुख्यमंत्री ने पिछले हफ्ते कहा था कि दिल्ली सरकार अगले कुछ हफ्तों में 25 ऑक्सीजन टैंक खरीदेगी और 64 ऑक्सीजन संयंत्र लगाएगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि शहर में ऑक्सीजन का कोई संकट पैदा न हो जैसा कि दूसरी लहर के दौरान हुआ था। साथ ही वह भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए 420 टन की ऑक्सीजन भंडारण क्षमता भी बना रही है।

केजरीवाल ने कहा था कि सरकार 150 टन की क्षमता वाला ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र बनाने के लिए आईजीएल से भी बात कर रही है।



Related