CISCE RESULT: सीआईएससीई शनिवार को घोषित करेगा 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के परिणाम


काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम शनिवार को घोषित करेगा। बोर्ड के सचिव गैरी अराथून ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।


भाषा भाषा
देश Updated On :

नई दिल्ली। काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (सीआईएससीई) 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम शनिवार को घोषित करेगा। बोर्ड के सचिव गैरी अराथून ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

अराथून ने कहा, “10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम शनिवार, 24 जुलाई को दोपहर तीन बजे घोषित किए जाएंगे। परिणाम काउंसिल की वेबसाइट पर और एसएमएस के माध्यम से उपलब्ध कराए जाएंगे।”

उन्होंने बताया, “करियर्स पोर्टल के माध्यम से स्कूलों के लिए तालिका रजिस्टर उपलब्ध कराया जाएगा। स्कूल प्रधानाचार्य के लॉगइन आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल कर काउंसिल के करियर्स पोर्टल पर लॉग इन कर परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।”

बोर्ड ने कोविड-19 की खतरनाक दूसरी लहर के मद्देनजर दोनों कक्षाओं के लिए परीक्षा रद्द कर दी थी। परीक्षा परिणाम बोर्ड द्वारा निर्धारित वैकल्पिक मूल्यांकन नीति के आधार पर घोषित किए जाएंगे।

अराथून ने बताया कि पिछले वर्षों के उलट इस बार उत्तर पुस्तिकाओं की फिर से जांच का विकल्प उपलब्ध नहीं होगा क्योंकि विद्यार्थियों को निर्धारित पद्धति से अंक दिए गए हैं। हालांकि, गणना त्रुटियां यदि कोई हो तो उसमें सुधार के लिए विवाद समाधान प्रणाली स्थापित की जाएगी।

उन्होंने कहा, “परिणाम में अंकों की गणना के संबंध में किसी विद्यार्थी को आपत्ति हो तो, वह स्कूल को लिखित आवेदन देकर कारणों के साथ अपनी आपत्ति के बारे में विस्तार से बता सकता है।”

अराथून ने कहा, “स्कूलों को ऐसे सभी आवेदनों की समीक्षा करनी होगी, और केवल उसमें दिए गए तर्कों से संतुष्ट होने के बाद, ऐसे आवेदनों को अपनी टिप्पणियों के साथ बोर्ड को भेजेंगे, जो कि तर्कों और अंकों की गणना के संबंध में राय का समर्थन करते हों और समर्थन करने वाले दस्तावेज भी भेजेंगे।”

उन्होंने कहा कि सीआईएससीई अनुरोध की, समर्थित दस्तावेजों और प्रधानाचार्य की टिप्पणी की समीक्षा करेगी और लिखित में अपना फैसला संबंधित स्कूल को बताएगी।

अराथून ने कहा, “यदि परिणाम में बदलाव की आवश्यकता होगी, तो सीआईएससीई संबंधित स्कूल के प्रमुख को सूचित करेगा। यह विवाद समाधान तंत्र केवल गणना त्रुटियों के सुधार के लिए है।”



Related