अगला एक महीना चुनौतीपूर्ण लेकिन पटरी पर लौटेगा सिनेमा व्यवसाय: संजीव बिजली


दिल्ली में, मध्य प्रदेश और गुजरात के कुछ हिस्सों में कोविड-19 संबंधी सख्त नियमों को ध्यान में रखते हुए थियेटर और मल्टीप्लेक्स बृहस्पतिवार को खुल गए लेकिन महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल और छत्तीसगढ़ में सिनेमाघर अब भी बंद हैं।


भाषा भाषा
मनोरंजन Updated On :

नई दिल्ली। पीवीआर लिमिटेड के संयुक्त प्रबंध निदेशक संजीव बिजली ने कहा है कि अगला एक महीना थोड़ा चुनौतीपूर्ण जरूर रहेगा लेकिन फिल्मों का कारोबार दीपावली तक परवान चढ़ने की उम्मीद है क्योंकि फिल्मकारों ने नई फिल्में रिलीज करना शुरू कर दिया है।

सात महीने बंद रहने के बाद देश के कई हिस्सों में सिनेमा हॉल खुल गए हैं। दिल्ली में, मध्य प्रदेश और गुजरात के कुछ हिस्सों में कोविड-19 संबंधी सख्त नियमों को ध्यान में रखते हुए थियेटर और मल्टीप्लेक्स बृहस्पतिवार को खुल गए लेकिन महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल और छत्तीसगढ़ में सिनेमाघर अब भी बंद हैं।

बिजली ने बताया कि सिनेमाघरों ने मानक संचालन प्रक्रियाओं के मद्देनजर व्यवस्था बनाई है जैसे कि एक-एक सीट छोड़कर बैठना, क्षमता की 50 फीसदी टिकटें ही बेचना, खाने पीने का पैकेटबंद सामान बेचना, थर्मल जांच और सैनिटाइजेशन आदि।

कई सिनेमाघरों का संचालन प्रारंभ हो गया है लेकिन अभी कोई नई फिल्म रिलीज नहीं हुई है इसलिए पुरानी फिल्मों का ही प्रदर्शन किया जा रहा है।

बिजली ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘सिनेमाघर आने पर नयी फिल्में देखने को नहीं मिल रहीं लेकिन खुशी इस बात की है कि थियेटर खुल गये हैं। मुझे लगता है कि अगले दो सप्ताह हम सभी के लिए परीक्षा वाले रहेंगे।’’

उन्होंने बताया कि ‘83’ और ‘सूर्यवंशी’ जैसी फिल्में क्रिसमस या नए साल पर रिलीज होंगी लेकिन नवंबर में, दीपावली से पहले भी कुछ अहम फिल्में रिलीज होने वाली हैं जिनमें ‘बंटी और बबली दो’, ‘संदीप और पिंकी फरार’, ‘टेनेट’, ‘डेविड कॉपरफील्ड’।

उन्होंने बताया कि कई तमिल, बांग्ला और पंजाबी फिल्में भी कतार में हैं तथा दर्शकों को बहुत कुछ नया देखने को मिलेगा।’’



Related