पश्चिम बंगाल में चौथे चरण की 44 सीटों पर प्रचार अभियान समाप्त हुआ


पश्चिम बंगाल में चौथे चरण में पांच जिलों की 44 विधानसभा सीटों के लिए प्रचार अभियान बृहस्पतिवार शाम पांच बजे समाप्त हो गया।


भाषा भाषा
बंगाल चुनाव-2021 Updated On :

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चौथे चरण में पांच जिलों की 44 विधानसभा सीटों के लिए प्रचार अभियान बृहस्पतिवार शाम पांच बजे समाप्त हो गया। इन सीटों पर 10 अप्रैल को मतदान होगा।

दक्षिण बंगाल के हावड़ा (भाग दो), दक्षिण 24 परगना (भाग तीन), हुगली (भाग दो) और उत्तर बंगाल के अलीपुरद्वार तथा कूचबिहार में शुक्रवार को होने वाले चुनाव में 1,15,81,022 मतदाता 373 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे।

कुल मतदाताओं में 58,82,514 पुरुष, 56,98,218 महिलाएं और ‘थर्ड जेंडर’ के 290 सदस्य शामिल हैं। मतदान सुबह सात बजे से शाम साढ़े छह बजे तक होगा। इन सीटों पर 15,940 मतदान केंद्रों पर वोट पड़ेंगे।

इस चरण में हावड़ा की नौ, दक्षिण 24 परगना की 11, अलीपुरद्वार की पांच, कूचबिहार की नौ और हुगली की 10 सीटों पर मतदान होगा। इस चरण में अपनी किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों में बंगाल रणजी के पूर्व कप्तान मनोज तिवारी (शिबपुर सीट, तृणमूल कांग्रेस) और राज्य के शिक्षा मंत्री और बेहला पश्चिम सीट से वर्तमान विधायक पार्थ चटर्जी शामिल हैं।

इसके अलावा टॉलीगंज सीट पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का मुकाबला राज्य के खेल मंत्री अरूप बिस्वास से है। बेहला पूर्व सीट पर भाजपा की उम्मीदवार पायल सरकार का मुकाबला रत्ना चटर्जी से है जो शहर के पूर्व महापौर और अग्निशमन मंत्री शोभन चटर्जी की पत्नी हैं।

राज्य के पूर्व वन मंत्री राजीव बनर्जी हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं और वह दोमजुर सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं। हुगली के चिन्सुराह सीट पर भाजपा सांसद और अभिनेत्री लॉकेट चटर्जी चुनावी मैदान में हैं।

चौथे चरण की 44 सीटों पर संवेदनशील स्थिति को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने सीएपीएफ की कम से कम 789 कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया है। कूचबिहार में सबसे ज्यादा 187 कंपनियां तैनात की जाएंगी।



Related