थाने से आए युवक ने जहर खाकर दी जान, महिला कांस्टेबल से छेड़छाड़ का था आरोप


एक महिला कांस्टेबल के साथ कथित छेड़खानी के आरोप में पुलिस हिरासत में लिए गए एक युवक ने थाने से घर आने के बाद जहर खाकर आात्‍महत्‍या कर ली।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
क्राइम Updated On :

सीतापुर। यूपी के सीतापुर जिले के हरगांव थाना क्षेत्र में एक महिला कांस्टेबल के साथ कथित छेड़खानी के आरोप में पुलिस हिरासत में लिए गए एक युवक ने थाने से घर आने के बाद जहर खाकर आत्‍महत्‍या कर ली। पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने बताया कि प्रभास नामक युवक को बाजार में एक महिला पुलिसकर्मी से छेड़खानी के आरोप में बुधवार को पकड़ा गया था।

प्रभास को पुलिस थाने लाया गया जहां बांड पर हस्‍ताक्षर कराने के बाद उसे रिहा कर दिया गया। बताया जाता है कि शुक्रवार की रात को उसने जहर खाया और उसे जिला अस्‍पताल सीतापुर में भर्ती कराया गया। गंभीर हालत में लखनऊ स्थित किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय भेज दिया गया जहां उसकी मौत हो गयी।

मृतक के भाई ने आरोप लगाया कि उसके भाई को पुलिस थाने में पीटा गया और उसने आत्‍मसम्‍मान के लिए यह कदम उठाया क्‍योंकि उसने छेड़खानी नहीं की थी। प्रभास द्वारा छोड़े गये सुसाइड नोट में कहा गया है कि उन्‍हें पुलिस स्‍टेशन में अपमानित किया गया और दस हजार रुपये लेकर रिहाई की गयी। मामले की एएसपी को जांच के आदेश दिए गए हैं।

इस मामले में प्रियांशु के घर वाले महिला कांस्टेबल पर अभद्रता करने का आरोप लगा रहे हैं। घरवालों का कहना है कि बुधवार शाम 8 बजे के दौरान कस्बे के बड़े चौराहे पर बाइक सवार प्रियांशु को वहां खड़ी कांस्टेबल अपूर्व दीक्षित ने रोका और उसे वह थाने लेकर आई।

बाइक पर प्रियांशु के साथ में उसका दोस्त भी था। घरवालों का कहना है कि प्रियांशु को पुलिस रात भर थाने में बैठाए रखा। दूसरे दिन सुबह उसके अभिभावक को बुलाकर थाने पर शपथ पत्र भरा कर बरी किया। इससे प्रियांशु और उसके परिवार की सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल हुई।