यूपी के मऊ में दलित युवक की हत्या के बाद तनाव


पुलिस ने बताया कि वर्ष 2019 में असलपुर गांव के ग्राम प्रधान और अरविंद के चाचा मुन्ना बागी को पंचायत चुनावों में प्रतिद्वंद्विता के चलते गोली मार दी गई थी।


भास्कर ऑनलाइन भास्कर ऑनलाइन
क्राइम Updated On :

मऊ। जिले के चिरियाकोट थाना क्षेत्र के अंतर्गत हसनपुर गांव में पुरानी दुश्मनी में एक युवक की हत्या के बाद गांव सहित क्षेत्र में तनाव व्याप्त हो गया है।

खबरों के अनुसार 20 वर्षिय मृतक अरविंद कुमार अपने साथियों के साथ गांव से ही कुछ दूर टहलने गया है। इसी दौरान रात को करीब 8.30 बजे कुछ लोगों ने अरविंद को भैंसही नदी के पुल पर घेर लिया और गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या के बाद गांव के लोग मौके पर पहुंच गए और लाश को सड़क पर रख मार्ग अवरुद्ध कर दिया।

पुलिस ने बताया कि ,  ‘‘12 जनवरी को गांव के ही राहुल सिंह और उसके सहयोगियों ने अरविंद राम (25) की गोली मारकर हत्या कर दी थी।’’

घटना से इलाके में तनाव फैल गया। आक्रोशित परिवार के सदस्यों और ग्रामीणों ने आगजनी की, जिसमें एक पुलिस वैन और मोटरसाइकिल क्षतिग्रस्त हो गई।

पुलिस ने बताया कि वर्ष 2019 में असलपुर गांव के ग्राम प्रधान और अरविंद के चाचा मुन्ना बागी को पंचायत चुनावों में प्रतिद्वंद्विता के चलते गोली मार दी गई थी।

अरविंद के परिवार के मुताबिक राहुल सिंह, मुन्ना बागी हत्या मामले में आरोपी था जबकि अरविंद के एक अन्य चाचा मुन्ना बागी हत्या मामले में चश्मदीद गवाह हैं।

पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार धुले ने बताया, ‘‘अरविंद की मंगलवार को मोटरसाइकिल सवार दो हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हमलावारों में से एक की पहचान राहुल के रूप में हुई है। ग्रामीणों ने एक पुलिस वैन और एक बाइक को आग लगा दी है।’’

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए इलाके में पुलिस को तैनात किया गया है।