रिश्वत लेते लोक अभियोजक गिरफ्तार, पुलिस इंस्पेक्टर व कांस्टेबल फरार

भाषा भाषा
क्राइम Updated On :

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने झुंझुनू में अतिरिक्त जिला जज (एडीजे) न्यायालय, चिड़ावा के लोक अभियोजक व टाईपिस्ट (निजी व्यक्ति) को 55 हजार रुपये की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। इस मामले में चिड़ावा के थानाधिकारी व कांस्टेबल एसीबी की कार्रवाई की भनक लगने पर मौके से फरार हो गये जिनकी तलाश की जा रही है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसके विरूद्ध थाना चिड़ावा में दर्ज मामले में मदद करने व मुलजिम कम करने की एवज में एडीजे न्यायालय चिड़ावा के लोक अभियोजक (पीपी) मोहम्मद खादिम व पुलिस थाना चिड़ावा के कांस्टेबल (रीडर) अनिल कुमार द्वारा 55 हजार रुपये की राशि रिश्वत मांगकर परेशान किया जा रहा है।

ब्यूरो की टीम ने शिकायत का सत्यापन कर शुक्रवार को ट्रेप कार्रवाई की। इसमें आरोपी लोक अभियोजक मोहम्मद खादिम द्वारा रिश्वत के 55 हजार रूपये जितेन्द्र कुमार टाइपिस्ट (निजी व्यक्ति) को दिलवाने पर दोनों को मौके पर रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

इस मामले में चिड़ावा के थानाधिकारी लक्ष्मीनारायण व कांस्टेबल अनिल कुमार, एसीबी की कार्रवाई की भनक लगने पर मौके से फरार हो गये जिनकी तलाश की जा रही है। आरोपियों के निवास व अन्य ठिकानों की तलाशी जारी है। एसीबी मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर आगे जांच करेगी।