फरीदाबाद में हाथ-पैर बांधकर दम्पति की हत्या, सीसीटीवी में कैद हुए हमलावर


घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है। हत्या की सूचना मिलते ही डीसीपी, एसीपी क्राइम के अलावा क्राइम ब्रांच और फॉरेंसिक एक्सपर्ट मौके पर पहुंचे।


भास्कर न्यूज भास्कर न्यूज
क्राइम Updated On :

फरीदाबाद। दिल्ली से सटे हरियाणा के फरीदाबाद जिला के गांव जसाना के एक घर में पति-पत्नी के हाथ-पैर बांधकर हत्या कर दी गई। इस घटना से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है। हत्या की सूचना मिलते ही डीसीपी, एसीपी क्राइम के अलावा क्राइम ब्रांच और फॉरेंसिक एक्सपर्ट मौके पर पहुंचे।

मृतकों की पहचान सुखबीर (27) और उसकी पत्नी मोनिका (26) के रूप में की गयी है। मंगलवार की देर रात बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया। खबर लगते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में ले लिया। उनके शरीर पर गोलियों के निशान थे। बताया जाता है कि हमलावरों ने उनके हाथ और पैर बांध दिए थे।

पुलिस के अनुसार, मोनिका अपने पिता के यहां से दूध लेने आती थी। मंगलवार को जब देर शाम तक मोनिका दूध लेने नहीं पहुंची तो उसका भाई दूध लेकर अपनी बहन के घर पहुंचा। जहां वह अपनी बहन और जीजा को खून से लथपथ देखकर चिल्ला उठा। बाद में पुलिस को इसकी सूचना दी गयी। जिस इलाके में यह घटना हुयी वहां का सीसीटीवी फुटेज एकत्र किया गया है, चार संदिग्धों को उस इमारत से निकलते हुये देखा जा रहा है जहां ये पति पत्नी रहते थे।

आम तौर पर मोनिका दूध लेने आती थी। मंगलवार को जब देर शाम तक मोनिका दूध लेने नहीं पहुंची तो उसका भाई दूध लेकर अपनी बहन के घर पहुंचा। जहां वह अपनी बहन और जीजा को खून से लथपथ देखकर चिल्ला उठा।

तिगांव पुलिस थाने के निरीक्षक जसवीर सिंह ने बताया, घर से कुछ सामान गायब है। आलमारी खुली थी और चीजें बिखरी हुयी थीं। इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और हत्या के पीछे के कारणों का पता लगाया जा रहा है। सुखबीर के हाथ-पैर बांध कर सिर में गोली मारी गई है जबकि मोनिका के सिर में चोट मारी गई है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर छानबीन कर रही है। जिसमें 4 युवक दिखे हैं।

मूलरूप से फतेहपुर चंदीला निवासी सुखबीर (27 वर्षीय) की शादी वर्ष 2013 में जसाना गांव की मोनिका के साथ हुई थी। करीब डेढ़ साल पहले मोनिका ने अपने मायके में जमीन लेकर मकान बनवा लिया था। इसके बाद से सुखबीर और उसकी पत्नी जसाना के पास बनी कॉलोनी में मकान बनाकर रहने लगे। फ़िलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरु के दी है।