कोरोना वारियर्स : पंजाब में PGI अस्पताल का करिश्मा, 8 घंटे में जोड़ दिया ASI का कटा हुआ हाथ


पंजाब पुलिस केASIके बाएं हाथ कोपीजीआई के डॉक्टरों की एक टीम ने 7 घंटे से अधिक समयकी सर्जरी के बाद सफलतापूर्वक रि-इंप्लांट कर दिया. ASI मंगलवार को अपनी ड्यूटी पर राज्य मेंलॉकडाउन सुनिश्चित कर रहे थे जिस दौरान पटियाला मेंनिहंगों सेसंघर्ष के दौरान उनका हाथकाट दिया गयाथा।


भास्कर न्यूज भास्कर न्यूज
क्राइम Updated On :

संदीप राणा

पंजाब पुलिस के ASI हरजीत सिंह के बाएं हाथ को पीजीआई के डॉक्टरों की एक टीम ने 7 घंटे से अधिक समय की सर्जरी के बाद सफलतापूर्वक रि-इंप्लांट कर दिया. पंजाब पुलिस के 50 वर्षीय ASI मंगलवार को अपनी ड्यूटी पर राज्य में लॉकडाउन सुनिश्चित कर रहे थे जिस दौरान पटियाला में निहंगों से संघर्ष के दौरान उनका हाथ काट दिया गया था। 

साधारण नहीं थी सर्जरी 

इस लंबी और तकनीकी रूप से जटिल सर्जरी पर पीजीआई ने कहा कि 50 साल के मरीज के बाएं हाथ की कलाई तक का हिस्सा पूरी तरह कटे हुए हिस्से को प्रारंभिक रूप से तैयार करने के बाद सुबह लगभग 10 बजे उसे फिर से जोड़ने का ऑपरेशन शुरू हुआ। सभी नसों और सिराओं को आपस में जोड़ा गया और सभी क्षतिग्रस्त हिस्सों को रिपेयर करने के बाद तीन के-वायर्स का इस्तेमाल कर कलाई के सभी नर्व को हड्डी के साथ फिक्स किया गया।
पीजीआई ने बयान में कहा है कि सर्जरी के अंत में मूल्यांकन किया गया कि हाथ काम करेगा या नहीं तो हमने पाया कि रक्त के अच्छे संचरण के कारण हाथ गरम था और अंततः सर्जरी में हम सफल रहे ।

पंजाब पुलिस का ऑपरेशन,11 ‘निहंग’ आरोपी गिरफ्तार 

घटना के बाद पंजाब पुलिस ने वरिष्ठ अधिकारियों की अगुवाई में ऑपरेशन चलाया और 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. उनके पास से काफी हथियार और नशीला पदार्थ बरामद किया गया है. मिली जानकारी के अनुसार, निहंग सिख हमला करने के बाद एक गुरुद्वारे में जा छिपे थे. वह लगातार पुलिस वालों के साथ गाली-गलौज कर रहे थे.
पुलिस ने सादे कपड़ों में गांवों के मुखिया से मुलाकात की और फिर पुलिस कुछ धर्म गुरुओं व स्थानीय ग्रंथियों के साथ मिलकर गुरुद्वारे में दाखिल हुई. जिसके बाद पुलिस ने गुरुद्वारे पर कब्जा करते हुए 11 आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया. उनके पास से हथियार, जिंदा कारतूस, तलवारें, नशीला पदार्थ और एक पिकअप वैन बरामद की गई है. 

पुलिस महानिदेशक के इशारे पर PGI अस्पताल ने की आपात सर्जरी 

पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता के फोन कॉल के बाद पीजीआई के निदेशक जगत राम ने ट्रॉमा सेंटर में आपात टीम को सक्रिय किया और प्लास्टिक सर्जरी के विभागाध्यक्ष रमेश शर्मा को हाथ को रि-इंप्लांट करने की जिम्मेदारी सौंपी ।
यह सर्जरी संपन्न करने वाली टीम में सुनिल गागा, जेरी आर. जॉन, सूरज नायर, मयंक चंद्रा, शुभेंदु, अंकुर, अभिषेक, पूर्णिमा और नर्सिंग टीम में अरविंद, स्नेहा और अर्श शामिल किए गए जिन्होंने करीब 8 घंटे में सर्जरी सफलतापूर्वक संपन्न की ।

क्या था पूरा मामला ? 

पंजाब (Punjab) के पटियाला जिला स्थित सनौर में सब्जी मंडी के बाहर निहंगों (Nihangs) ने रविवार सुबह करीब 6 बजे पुलिस (Punjab Police) पर हमला कर दिया था. हमलावरों ने एक ASI का कलाई से हाथ काट दिया था. हमले में मंडी बोर्ड के एक अधिकारी समेत कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. 
पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि निहंग सिख लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए एक गाड़ी से आ रहे थे जिस दौरान उन्होंने सब्जी मंडी के पास लगे बैरिकेड तोड़ दिए. जब पुलिस ने उनसे कर्फ्यू पास मांगा तो उन्होंने पुलिस पर हमला कर दिया. जिसके बाद वह लोग निहंग गुरुद्वारा साहिब में घुस गए.
पुलिस ने हमलावरों से सरेंडर करने के लिए कहा. स्थानीय धर्म गुरुओं व सरपंच की मदद से करीब दो घंटे बाद एक टीम गुरुद्वारे में दाखिल हुई. जिसके कुछ देर बाद सभी आरोपी सरेंडर करने के लिए राजी हो गए. वह तलवारों व चाकू के साथ बाहर निकले.