बिहार चुनाव ‘नई दशा बनाम दुर्दशा, तरक्की बनाम नफरत व बंटवारा ’ के बीच है : कांग्रेस


कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ यह चुनाव नई दशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है, यह चुनाव नया रास्ता और नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है । यह चुनाव नए तेज़ एवं तरूणायी बनाम फ़ेल तजुर्बे की दुहाई तथा खुद्दारी और तरक्की बनाम बंटवारा और नफरत का चुनाव है। ’’


भाषा भाषा
बिहार चुनाव 2020 Updated On :

पटना। कांग्रेस ने बिहार में नीतीश कुमार नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार पर निशाना साधते हुए शनिवार को कहा कि यह चुनाव ‘नई दशा बनाम दुर्दशा और खुद्दारी और तरक्की बनाम बंटवारा और नफरत’ के बीच है।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ यह चुनाव नई दशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है, यह चुनाव नया रास्ता और नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है । यह चुनाव नए तेज़ एवं तरूणायी बनाम फ़ेल तजुर्बे की दुहाई तथा खुद्दारी और तरक्की बनाम बंटवारा और नफरत का चुनाव है। ’’

उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार ने बिहार की जनता से ‘धोखा’ किया है।

विपक्षी महागठबंधन के नेताओं ने शनिवार को यहां एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में संकल्प पत्र ‘बदलाव के संकल्प’ को जारी किया।

भाजपा पर निशाना साधते हुए सुजरेवाला ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी तीन गठबंधनों में चुनाव लड़ रही है, एक गठबंधन जदयू और भाजपा का है जो नज़र आता है जबकि एक गठबंधन भाजपा और लोजपा का है जो लोग समझते हैं। उन्होंने कहा कि एक और गठबंधन भाजपा और ओवैसी की पार्टी का है।

सुरजेवाला ने कहा कि बिहार किसानों और नौजवानों का प्रदेश है और केंद्र सरकार ने सुनियोजित तरीके से खेती पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा नीत केंद्र सरकार हरित क्रांति को हराना चाहती है लेकिन किसानों, गरीबों, पिछड़ों, दलितों को मिलकर इस षडयंत्र को विफल करना है।

कांग्रेस नेता नेता ने सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को यह बताना चाहिए कि अगर सभी मंडियां समाप्त हो जायेंगी तब किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य कैसे मिलेगा ?

 



Related